स्पर्श Class 9 Hindi Chapter 2 एवरेस्ट मेरी शिखर यात्रा

Chapter 2 of Hindi Subject ( स्पर्श ) of Class 9 is एवरेस्ट: मेरी शिखर यात्रा . NCERT Solutions for Class 9 Hindi Chapter 2 एवरेस्ट: मेरी शिखर यात्रा are provided on this page.

( स्पर्श ) Class 9 Hindi Chapter 2 – एवरेस्ट: मेरी शिखर यात्रा

Chapter 2 of Class 9 Hindi ( स्पर्श ) NCERT Text book is “एवरेस्ट: मेरी शिखर यात्रा“. The end exercise of this chapter consists of a total of 25 questions. The writer of this chapter is “Bachendri Pal (1954) “.

Chapter 2 : एवरेस्ट मेरी शिखर यात्रा

SubjectHindi ( स्पर्श )
Class 9
Chapter Chapter 2 : एवरेस्ट मेरी शिखर यात्रा
Author : Bachendri Pal ( 1954 )
Study MaterialNCERT Solutions ( End Exercise )
Total Questions मौखिक – 9 Questions
लिखित ( क ) – 6 Questions
लिखित ( ख ) – 7 Questions
लिखित ( ग ) – 3 Questions
Total – 25 Questions
Text BookNCERT Text Book ( Updated Syllabus) – Hindi ( स्पर्श )

Class 9 Hindi Chapter 2 एवरेस्ट मेरी शिखर यात्रा [ NCERT Solutions ]

मौखिक – निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक-दो पंक्तियों में दीजिए

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 1 :
अग्रिम दल का नेतृत्व कौन कर रहा था?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 2 :
लेखिका को सागरमाथा नाम क्यों अच्छा लगा?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 3 :
लेखिका को ध्वज जैसा क्या लगा?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 4 :
हिमस्खलन से कितने लोगों की मृत्यु हुई और कितने घायल हुए?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 5 :
मृत्यु वेफ अवसाद को देखकर कर्नल खुल्लर ने क्या कहा?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 6 :
रसोई सहायक की मृत्यु किस तरह हुई?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 7 :
वैंफप-चार कहाँ और कब लगाया गया?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 8 :
लेखिका ने शेरपा वुफली को अपना परिचय किस तरह दिया?
Answer :

Class 9 Hindi Chapter 2 मौखिक Question 9 :
लेखिका की सपफलता पर कर्नल खुल्लर ने उसे किन शब्दों में बधाई दी ?
Answer :

लिखित ( क ) निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर ( 25 – 30 ) शब्दों में लिखिए

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( क ) Question 1 :
नजदीक से एवरेस्ट को देखकर लेखिका को कैसा लगा?
Answer : एवरेस्ट को नजदीक से देखकर लेखिका को बहुत अच्छा लगा। जब वह काठमांडू पहुंची तो पता चला कि नेपालियों में इसे ‘सागरमाथा’ के नाम से भी जाना जाता है जिसे सुनकर उन्हें बहुत अच्छा लगा।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( क ) Question 2 :
डॉ. मीनू मेहता ने क्या जानकारियाँ दीं?
Answer : डॉक्टर मीनू मेहता ने दल को एल्युमीनियम की सीढ़ियों से अस्थाई पुलों को बनाना, लट्ठों और रस्सियों का उपयोग, बर्फ की आड़ी तिरछी दीवारों पर रस्सियों का बांधना और दल के अभियंत्रिकी कार्यों के बारे में विस्तृत जानकारी दी ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( क ) Question 3 :
तेनजिंग ने लेखिका की तारीफ में क्या कहा?
Answer : तेनजिंग ने लेखिका की तारीफ में कहा कि वह एक पक्की पर्वतीय लड़की लगती है। उन्हें तो शिखर पर पहले ही प्रयास में पहुंच जाना चाहिए । तेनजिंग का भी यह पहला अभियान था और लेखिका का भी ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( क ) Question 4 :
लेखिका को किनके साथ चढ़ाई करनी थी?
Answer : लेखिका को अंग दोरजी के साथ चढ़ाई करनी थी जो बिना ऑक्सीजन के चढ़ाई करते थे ।इसके कारण उनके पैर ठंडे पड़ जाते थे जिस वजह से भी लंबे समय तक खुले में नहीं रह सकते थे । लेकिन लेखिका को उन पर विश्वास था और उन्होंने चढ़ाई शुरू की ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( क ) Question 5 :
लोपसांग ने तंबू का रास्ता कैसे साफ किया?
Answer : जब विशालकाय हिम युञ्ज ने कैंप को तहस-नहस कर दिया । तो सारा रास्ता बर्फ से ढक गया था । तब लोपसांग ने अपनी स्विच छुरी की मदद से तंबू का रास्ता साफ किया ताकि वे आगे बढ़ सके ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( क ) Question 6 :
साउथ कोल वैंफप पहुँचकर लेखिका ने अगले दिन की महत्त्वपूर्ण चढ़ाई की तैयारी कैसे शुरू की?
Answer : साउथ कोल कैंप पहुंचकर लेखिका ने अगले दिन की महत्वपूर्ण चढ़ाई की तैयारी शुरू कर दी । उन्होंने खाना, कुकिंग गैस तथा कुछ ऑक्सीजन सिलेंडर इकट्ठे किए ।

लिखित ( ख ) निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर ( 50 – 60 ) शब्दों में लिखिए

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ख ) Question 1 :
उपनेता प्रेमचंद ने किन स्थितियों से अवगत कराया?
Answer : उपनेता प्रेमचंद ने पहली बाधा खुंभु हिमपात की स्थिति से सभी को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि उनके दल ने कैंप एक जो हिमपात से ठीक ऊपर है वहां तक का रास्ता साफ कर दिया और पुल बनाकर, रस्सिया बांधकर और झंडों से रास्ता चिन्हित कर सभी कठिनाइयों का जायजा ले लिया है । उन्होंने यह भी बताया कि ग्लेशियर बर्फ की नदी है और उसका गिरना जारी है । यह भी बताया कि हिमपात में अनियमित बदलाव के कारण सभी किए काम व्यर्थ हो सकते हैं ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ख ) Question 2 :
हिमपात किस तरह होता है और उससे क्या-क्या परिवर्तन आते हैं?
Answer : हिमपात एक तरह से बर्फ के खंडों का अव्यवस्थित ढंग से गिरना होता है । ग्लेशियर के बहने से अक्सर बर्फ में हलचल हो जाती है जिससे बड़ी-बड़ी चट्टानें तत्काल गिरती है और अन्य कारणों से खतरनाक स्थिति धारण कर लेती है । सीधे धरातल पर दरार पड़ना और दरार का गहरे चौड़े हिम विदर में मिल जाना जैसे परिवर्तन आते हैं ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ख ) Question 3 :
लेखिका के तंबू में गिरे र्बफ पिंड का वर्णन किस तरह किया गया है?
Answer : लेखिका के तंबू में गिरी बर्फ लहोत्से ग्लेशियर से टूटकर आ गिरा था और उसका विशाल हिमपुंज बन गया था । इन खंडों बर्फ के टुकड़ों और जमी हुई बर्फ से बना हुआ विशालकाय पुंज एक एक्सप्रेस रेलगाड़ी की गति से और भीषण गर्जना के साथ सीधी ढलान से नीचे आया ।और लेखिका के तंबू से जा टकराया । इस बर्फ पिंड का वर्णन बहुत ही आकर्षक तरीके से किया गया है।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ख ) Question 4 :
लेखिका को देखकर ‘की’ हक्का-बक्का क्यों रह गया?
Answer : लेखिका को देखकर ‘की ‘ हक्का बक्का रह गया क्योंकि जब लेखिका अपने दल के लिए चाय और जूस लेने बाहर निकली तो बर्फीली हवाएं चल रही थी । उस समय बाहर निकलना और खतरनाक था । जब ‘की ‘ ने लेखिका को देखा तो पूछा कि इतनी ठंड में आप बाहर क्यों जा रही हो और बर्फ का गिरना अभी जारी है और कोई दुर्घटना भी हो सकती है। और लेखिका को रोकने की कोशिश की ।

लेकिन लेखिका ने कहा कि वह भी दल की सदस्य है इसलिए अपने साथियों की मदद करना उसका कर्तव्य है लेखिका की ऐसी हिम्मत को देखकर ‘की हक्का-बक्का रह गया ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ख ) Question 5 :
एवरेस्ट पर चढ़ने के लिए कुल कितने कैंप बनाए गए? उनका वर्णन कीजिए।
Answer : एवरेस्ट पर चढ़ने के लिए चार कैंप लगाए गए। पहला कैंप 6000 मीटर की ऊंचाई पर लगाया लगाया गया जो कि हमपात के ठीक ऊपर था । दूसरा कैंप साउथ कॉल कैंप था। यह पृथ्वी की सबसे कठोर जगह के नाम से प्रसिद्ध है। तीसरा कैंप लहोत्से की बर्फीली सीधी ढलान पर लगाया गया और चौथा कैंप 7900 मीटर की ऊंचाई पर लगाया गया था।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ख ) Question 6 :
चढाई के समय एवरेस्ट की चोटी की स्थिति कैसी थी?
Answer : एवरेस्ट पर चढ़ाई के समय चोटी एकदम सीधी थी जिस पर चढ़ने में बहुत कठिनाई हो रही थी। एवरेस्ट की चोटी पर इतनी जगह नहीं थी कि दो व्यक्ति एक साथ खड़े हो सके। चारों तरफ हजारों मीटर लंबी सीधी ढलान को देखते हुए सुरक्षा का बहुत बड़ा खतरा था चोटी पर बर्फ जमी हुई थी जिससे जगह एकदम चिकनी थी ।उस पर स्थिर खड़ा होना बहुत मुश्किल था लेकिन लेखिका और उसके साथियों ने बर्फ को फावड़े से खोदकर जगह ठीक की और चोटी की बर्फ को माथे से लगाकर एवरेस्ट की चोटी के ताज को चूमा ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ख ) Question 7 :
सम्मिलित अभियान में सहयोग एवं सहायता की भावना का परिचय बचेंद्री वेफ किस कार्य से मिलता है ?
Answer : बचेंद्री पाल अपने दूसरे सदस्यों की मदद करने के लिए बर्फीली हवाओं में ही थरमस में जूसऔर चाय लेकर तंबू से बाहर जाती है। वह चोटी से नीचे उतरती है और तभी जय और ‘की’ को चाय पिलाती है ।

‘की’ बचेंद्री पाल को नीचे जाने से रोकने की कोशिश करता है लेकिन वह दृढ़ता से कहती है कि वह भी औरों की तरह एक पर्वतारोही है इसलिए वह भी अपने दल की सदस्य ही सदस्यों की मदद कर सकती है ।

लिखित ( ग ) निम्नलिखित के आशय स्पष्ट कीजिए

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ग ) Question 1 :
एवरेस्ट जैसे महान अभियान में खतरों को और कभी-कभी तो मृत्यु भी आदमी को सहज भाव से स्वीकार करनी चाहिए।
Answer : इस पंक्ति में नेता कर्नल खुल्लर ने एवरेस्ट के अभियान दल के सदस्यों को यह बात स्पष्ट रूप से समझा दी कि एवरेस्ट पर चढ़ना खतरों से खाली नहीं है। इस अभियान में जगह-जगह पर खतरे मिलेंगे जिससे आदमी की मृत्यु भी हो सकती है। हमें इनसे घबराना नहीं है और इसे एक चुनौती के रूप में स्वीकार करना है ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ग ) Question 2 :
सीधे धरातल पर दरार पड़ने का विचार और इस दरार का गहरे-चौड़े हिम-विदर में बदल जाने का मात्रा खयाल ही बहुत डरावना था। इससे भी श्यादा भयानक इस बात की जानकारी थी कि हमारे संपूर्ण प्रयास वेफ दौरान हिमपात लगभग एक दर्जन आरोहियों और वुफलियों को प्रतिदिन छूता रहेगा।

Answer : एवरेस्ट पर हिमपात के कारण धरती पर दरारें पड़ जाती है तथा धीरे-धीरे दरारें गहरी और चौड़ी हो जाती है । इन सबसे भयानक जानकारी यह थी कि एवरेस्ट की चढ़ाई के दौरान प्रतिदिन हिमपात होंगे तथा चोटी पर चढ़ने वाले लोगों को इनका सामना करना होगा । यह सोच कर ही दिल घबराता है पूर्ण विराम चलना ।

Class 9 Hindi Chapter 2 लिखित ( ग ) Question 3 :
बिना उठे ही मैंने अपने थैले से दुर्गा माँ का चित्रा और हनुमान चालीसा निकाला। मैंने इनको अपने साथ लाए लाल कपडे़ में लपेटा, छोटी-सी पूजा-अर्चना की और इनको र्बफ में दबा दिया। आनंद के इस क्षण में मुझे अपने माता-पिता का ध्यान आया।

Answer : बचेंद्री पाल ने एवरेस्ट पर चढ़कर सबसे पहले घुटनों के बल झुककर चोटी को चूमा और फिर खड़े हुए बिना ही अपने थैले से दुर्गा मां का चित्र और हनुमान चालीसा निकालकर आराधना करके बर्फ के नीचे दबा दिया । खुशी के इस पावन अवसर पर लेखिका को अपने माता-पिता की याद आने लगी।